Shadow

नसबंदी केस: 7 दिन से फरार नर्स को पुलिस टीम ने फरीदाबाद में पकड़ा

बलौदाबाजार (एजेंसी) | घर में सर्जरी करके दो मरीजों की जान लेने वाली सरकारी नर्स (एएनएम) डागेश्वरी यादव को पुलिस ने फरीदाबाद से दबोच लिया है। बलौदाबाजार पुलिस 26 मई से फरार डागेश्वरी की तलाश कर रही थी। साइबर सेल की मदद से उसे तलाशते हुए टीम दिल्ली पहुंची, फरीदाबाद में पुख्ता लोकेशन मिलने पर टीम ने उसे हिरासत में ले लिया। एसपी नीतू कमल ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस आरोपी नर्स को लेकर सोमवार की देर शाम तक बलौदाबाजार पहुंच जाएगी।

नर्स के गोरखधंधे का पर्दाफाश होने के बाद से डागेश्वरी यादव फरार चल रही थी। पुलिस उसे तलाशते हुए कवर्धा, बिलासपुर समेत कई ठिकानों पर दबिश दे रही थी। एक बार रायपुर और फिर नागपुर में उसकी लोकेशन मिली, लेकिन टीम के पहुंचने से पहले वह फरार हो गई थी। पुलिस अब नर्स को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी, जिससे अन्य कई मामले और नाम सामने आ सकते हैं।

नर्स डागेश्वरी की मदद शहर के नामी चिकित्सक डॉ. प्रमोद तिवारी भी करते थे। इस खुलासे के बाद अन्य पीड़ित भी सामने आए। इनमें दो परिवार ऐसे हैं, जिन्होंने अवैध इलाज के कारण अपनी बेटियों को खोया है। इन खबरों के बाद ही सक्रिय हुए प्रशासन ने नर्स की अवैध क्लीनिक सील कर दी थी। नर्स डागेश्वरी और डॉ. प्रमोद के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस भी दर्ज किया गया।

Leave a Reply