Shadow

अंबिकापुर: पूछताछ के लिए बुलाए गए युवक का शव साढ़े पांच घंटे बाद फांसी पर लटका मिला

अंबिकापुर (एजेंसी) | जिले में हुए एक चोरी के मामले में पूछताछ के लिए बुलाए गए युवक का शव साढ़े पांच घंटे बाद फांसी पर लटका मिला। दरअसल पुलिस ने रविवार को रात 8 बजे पूछताछ के लिए पंकज कुमार बेक को बुलाया था, जबकि उसका शव देर रात 1:30 बजे साइबर सेल से करीब 200 मीटर की दूरी पर प्राइवेट हाॅस्पिटल के कैंपस में संदिग्ध अवस्था में फांसी पर लटका मिला।

आईजी केसी अग्रवाल के अनुसार टीआई समेत 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। जांच के लिए एसपी सरगुजा को निर्देश दिए हैं। मृतक सूरजपुर जिले के भटगांव थाना अंतर्गत ग्राम सलका अघिना का रहने वाला था। घटनास्थल पर मृतक के पैर जमीन से घुटने के बल टिके थे। वह सिर्फ अंडरवियर ही पहने था और शरीर पर चोट के निशान थे। हालांकि पुलिस बता रही है कि पूछताछ के दाैरान दौरान वह शौच करने के बहाने बाहर निकला और चकमा देकर फरार होने के बाद फांसी लगा ली।

परिजनों ने लगाया पुलिस पर कस्टडी में हत्या का आरोप 

परिजन का कहना है कि पुलिस कस्टडी से फरार होकर वह कैसे फांसी लगा सकता है। पुलिस के प्रतिवेदन पर न्यायिक मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में पंचनामा कर शव का पीएम कराया। वहीं मृतक के पिता अमीर साय व भाई निर्मल ने बताया कि पंकज का कोई आपराधिक रिकार्ड नहीं है। उसके खिलाफ चोरी के कथित मामले में पुलिस ने पहली बार अपराध दर्ज किया है। उन्हाेंने पुलिस की कस्टडी में ही उसकी माैत हाेने की आशंका जताई है।

शव सड़क पर रखकर किया जाम

दूसरी और घर जाते समय भाजपा नेताओं ने परिजन के साथ शव काे बनारस रोड पर रखकर चक्काजाम कर दिया। वे दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई सहित 50 लाख रुपए मुआवजे की मांग कर रहे थे। इससे ढाई घंटे तक बनारस रोड में आवागमन बंद रहा। प्रशासन की ओर से सहायता राशि के रूप में 50 हजार रुपए दिए गए। इसके बाद उन्होंने चक्काजाम समाप्त किया।

डीजीपी बोले- हिरासत में अब मौत हुई तो मानेंगे एसपी की चूक, सीआर में लिखेंगे : डीजीपी डीएम अवस्थी ने हिरासत में हो रही मौतों के बाद चिट्‌ठी जारी कर सभी से कहा है कि ऐसी घटना होने पर पुलिस अधीक्षकों की चूक मानते हुए उनकी सीआर में इसे लिखा जाएगा। आरोपियों को हिरासत में रखने के नियम और मापदंड हैं। इसके पालन की जिम्मेदारी एसपी और नगर पुलिस अधीक्षकों की होगी।

पीएम रिपाेर्ट में मिले चाेट के निशान

पीएम करने वाली टीम के सदस्य डाॅ. राजीव कुमार वर्मा ने बताया कि युवक की मौत फांसी लगने से हुई है। उसके पैर व हाथ में चोट के निशान हैं। ये कैसे आई है, इसके बारे में अभी नहीं बताया जा सकता।

Leave a Reply