chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

chhattisgarh

राज्यपाल उइके की मांग: बस्तर में केंद्रीय विद्यालय बनाएं व किसानों को पीएम किसान कल्याण योजना से जोड़ें

राज्यपाल उइके की मांग: बस्तर में केंद्रीय विद्यालय बनाएं व किसानों को पीएम किसान कल्याण योजना से जोड़ें

chhattisgarh, News
नई दिल्ली (एजेंसी) | नई दिल्ली में राज्यपालों के उपसमूह की बैठक में छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसूइया उइके ने बस्तर के लिए केंद्रीय विद्यालय खोलने व जनजाति किसानों को भी प्रधानमंत्री किसान कल्याण योजना से जोड़ने की मांग रखी। राज्यपाल ने सलाहकार परिषद की नियुक्ति, जनजातियों की सांस्कृतिक विशिष्टता का संरक्षण सहित कई मुद्दे उठाते हुए कहा, संस्कृति और परंपरा का संरक्षण बहुत जरूरी है। इसके लिए लोकनृत्य, लोकगीत, बोली, सामाजिक, सांस्कृतिक मान्यताओं का दस्तावेजीकरण किया जाए। वहीं उन्होंने कैंसिल किए गए वन अधिकार पट्टा की समीक्षा की बात कही। राज्यपाल ने जनजाति क्षेत्रों में विशेष आवासीय स्कूल पर बात करते हुए बस्तर में केंद्रीय विद्यालय के स्थापना की मांग की। साथ ही वन भूमि विवादों को हल करना और निर्धारित तिथि के भीतर वनवासियों को भूमि का स्वामित्व प्रदान करना, वनोपज पर जनजातियों के अधिकार, स
सीएम बघेल का सभी कलेक्टरों को निर्देश, हॉस्टल के बच्चों के साथ खाएं खाना, परिवार की तरह रखें ख्याल

सीएम बघेल का सभी कलेक्टरों को निर्देश, हॉस्टल के बच्चों के साथ खाएं खाना, परिवार की तरह रखें ख्याल

chhattisgarh, News
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी जिला कलेक्टर को चिट्‌ठी लिखी है। इस पत्र में उन्हें आवासीय शालाओं, छात्रावासों और आश्रमों में रह रहे बच्चों को सभी तरह की सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ कलेक्टरों से कहा है कि ऐसे परिसरों के निरीक्षण के लिए रोस्टर और चेकलिस्ट तैयार करें, समय-समय पर आकस्मिक निरीक्षण भी करें। वहां भोजन की गुणवत्ता जांचने छात्रों के साथ भोजन भी करें। सीएम ने कहा है कि कई जगहों से अव्यवस्था की शिकायतें मिल रही हैं। जबकि यहां सुविधा देने में सरकार की तरफ से कोई कमी नहीं की जा रही। मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों से अपेक्षा की है कि वे शासकीय परिसरों में रहने वाले छात्रों के प्रति संवदेनशीलता रखें और उन्हें अपने परिवार का सदस्य मानते हुए उनके लिए जरुरी हर तरह सुविधाएं उन्हें निरंतर मुहैया कराने के लिए व
सीएम भूपेश बघेल के पिता ने की दशानन की पूजा, 124 गांवों में रावण दहन नहीं करने का संकल्प

सीएम भूपेश बघेल के पिता ने की दशानन की पूजा, 124 गांवों में रावण दहन नहीं करने का संकल्प

chhattisgarh, News, politics
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल ने दशहरे के दिन रावण की पूजा की। सर्व आदिवासी समाज के कार्यक्रम में उन्होंने महिषासुर और मेघनाद का शहादत दिवस मनाया। आदिवासी नेता सुरजू टेकाम ने रावण दहन न करने का प्रस्ताव रखा। कार्यक्रम में तय किया गया कि क्षेत्र के 124 गांवों में रावण दहन में कोई भी आदिवासी शामिल नहीं होगा, न ही कोई सहयोग देगा, क्योंकि आदिवासी रावण को अपना पुरखा मानते हैं। वोट हमारा राज तुम्हारा, यह नहीं चलेगा: नंद कुमार वोट हमारा-राज तुम्हारा, यह नहीं चलेगा। प्रदेश में आए तमाम उच्च वर्ग के लोगों गिन-गिन के दफ्तरों से निकाला जाए और हमारे बच्चों को नौकरी दी जाए। यह हमारी अंतिम लड़ाई है। अब चाहे इसे नक्सलवाद कहिए या कोई भी वाद कहिए। हम हक और अधिकार की लड़ाई लडेंगे। जब भी आप पर कोई संकट आए मैं यहां आने के लिए तैयार हूं। आप लोगों (आदिवासियों
राज्य कर्मचारियों को सरकार का दीपावली गिफ्ट, 7वें वेतनमान के एरियर की मिलेगी दूसरी किश्त

राज्य कर्मचारियों को सरकार का दीपावली गिफ्ट, 7वें वेतनमान के एरियर की मिलेगी दूसरी किश्त

chhattisgarh, News
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ सरकार ने दीपावली के अवसर पर राज्य कर्मचारियों को गिफ्ट दिया है। इसके तहत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दीपावली से पहले 7वें वेतनमान के एरियर की दूसरी किश्त कर्मचारियों को देने की स्वीकृति प्रदान की है। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के जहां 3.50 लाख कर्मचारियों को फायदा मिलेगा, वहीं शासन पर 550 करोड़ रुपए का अतिरिक्त वित्तीय भार आएगा। यह वर्ष 2019 में देय सातवें वेतनमान का एरियर है, जिसे 6 किश्तों में कर्मचारियों को भुगतान किया जाना है। वित्त विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य शासन के कर्मचारियों को 7वें वेतनमान का लाभ एक जनवरी 2016 से देय है। इसका भुगतान जुलाई 2017 से किया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से जनवरी 2016 से जून 2017 तक कुल 18 माह के एरियर की राशि का भुगतान 6 समान किश्तों में देने का निर्णय लिया गया है। प्रथम किश्त का भुगतान अगस्त 2018 में हो चु
गाँधी विचार पद यात्रा में बघेल ने कहा, भाजपा और देश के राष्ट्रवाद में अंतर, ये खिलाफ जाने वाले को ठहरा देते हैं देशद्रोही

गाँधी विचार पद यात्रा में बघेल ने कहा, भाजपा और देश के राष्ट्रवाद में अंतर, ये खिलाफ जाने वाले को ठहरा देते हैं देशद्रोही

chhattisgarh, News, politics
रायपुर (एजेंसी) | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, जिन्होंने कभी आजादी की लड़ाई में हिस्सा नहीं लिया, वह हमें राष्ट्रवाद का सर्टिफिकेट बांट रहे हैं। उनका राष्ट्रवाद गांधी का राष्ट्रवाद नहीं है। भाजपा के राष्ट्रवाद और देश के राष्ट्रवाद में अंतर है। जो इससे असहमति प्रकट करता है उसे देशद्रोही करार दिया जाता है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुरुवार को रायपुर पहुंची गांधी विचार पदयात्रा के दौरान डूंडा में हुई सभा को संबोधित कर रहे थे। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर कंडेल से 4 अक्टूबर को इस 7 दिवसीय पदयात्रा की शुरुआत की गई थी। बारिश में भीगते 10 किमी पैदल चले मुख्यमंत्री, साधा संघ और भाजपा पर निशाना पदयात्रा डूंडा, संतोषी नगर, संजय नगर, कालीबाड़ी होते हुए गांधी मैदान पहुंची। इस दौरान हल्की-हल्की बारिश भी हो रही थी। करीब 8 से 10 किमी की इस दूरी को सीएम भूपेश बघेल ने पैदल बिना रुके तय किया। इससे प
20 रुपए के लिए कस्टमर केयर में काॅल, खाते से 31 हजार पार

20 रुपए के लिए कस्टमर केयर में काॅल, खाते से 31 हजार पार

chhattisgarh, News
रायपुर (एजेंसी) | जोमैटो कंपनी से 20 रुपए वापस लेने के लिए एक युवक ने गूगल में कस्टमर केयर नंबर सर्च कर कॉल किया। उसे ऑनलाइन पैसा वापसी का झांसा दिया गया और एक लिंक भेजा गया। लिंक में खाते की जानकारी देते ही 10 मिनट के भीतर 31 हजार रुपए निकाल लिया गया। युवक के पास लगातार ट्रांजेक्शन के चार मैसेज आए, तब ठगी का पता चला। उसने पुरानी बस्ती थाना और साइबर सेल में शिकायत की है। अश्वनी नगर का धीरेंद्र कुमार प्राइवेट नौकरी करता है। रविवार रात उसने जोमैटो से 110 रुपए का खाना मंगाया था। उसे कंपनी से कॉल आया कि उन्होंने जो खाने में मंगाया है वह उपलब्ध नहीं है। उसकी जगह कोई दूसरा ऑर्डर कर सकते हैं। तब धीरेंद्र ने पनीर ऑर्डर, जो 90 रुपए का था। कंपनी वालों ने धीरेंद्र से कहा कि उन्हें 110 रुपए के हिसाब से ही खाना भेजा जाएगा। उसकी मात्रा बढ़ाई जाएगी। आधा घंटे बाद धीरेंद्र के पास जोमैटो का कर्मचारी भ
अम्बिकापुर में देश के पहले गार्बेज कैफे का हुआ उद्घाटन, अनूठी पहल से निकलेगी सकारात्मक परिणाम: श्री सिंहदेव

अम्बिकापुर में देश के पहले गार्बेज कैफे का हुआ उद्घाटन, अनूठी पहल से निकलेगी सकारात्मक परिणाम: श्री सिंहदेव

chhattisgarh, News
अंबिकापुर (एजेंसी) | प्लास्टिक कचरा लाओ और भरपेट भोजन खाओ। सुनने और पढ़ने में यह बात अजीब जरूर लग सकती है, लेकिन छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर के गार्बेज कैफे में इसकी शुरुआत हो गई है। यह अपने आप में देश का पहला ऐसा कैफे है, जो प्लास्टिक कचरे के बदले में लोगों को नाश्ता और खाना मुहैया कराएगए। नगर निगम की शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने की यह पहल है। सफाई के मामले में इंदौर के बाद दूसरे नंबर पर अंबिकापुर का नाम आता है। पहले दिन पांच लोगों ने प्लास्टिक कचरा देकर किया भोजन शहर के प्रतीक्षा बस स्टैंड पर खुले गार्बेज कैफे का प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बुधवार को उद्घाटन किया। इस दौरान पहले ही दिन पांच लोग प्लास्टिक कचरा लेकर कैफे पहुंच गए। इन सभी ने स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव के साथ गार्बेज कैफे में भोजन भी किया। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि वह भोजन की क्वॉलिटी चेक करना चा
जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों के रिहाई के लिए आज किया गया आंदोलन, हजारो आदिवासी जुटे

जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों के रिहाई के लिए आज किया गया आंदोलन, हजारो आदिवासी जुटे

chhattisgarh, News, Videos
बस्तर (एजेंसी) | बस्तर की जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई के लिए आज एक दिवसीय आंदोलन किया गया। सामजिक कार्यकर्ता और आप नेत्री सोनी सोरी ने इलाके के एक दर्जन सरपंचों के साथ दंतेवाड़ा पहुंचकर एसडीएम से आंदोलन किया। एसडीएम ने 9 अक्टूबर को कुआकोंडा में पांच से 6 हजार लोगों की भीड़ के साथ सिर्फ एक दिन आंदोलन करने की अनुमति दे दी थी। इससे पहले सभी अनिश्चितकालीन आंदोलन करने की मांग कर रहे थे। अब एक दिन की अनुमति के बाद भी आंदोलन जारी रखने की बात कही जा रही है। https://youtu.be/QyKMSoVSJhU मिली जानकारी के अनुसार 5 अक्टूबर से दंतेवाड़ा, सुकमा और बीजापुर के आदिवासी बस्तर की अलग-अलग जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई की मांग को लेकर पालनार में डटे हुए हैं। आदिवासियों को कुआकोंडा से अनिश्चितकालीन आंदोलन की शुरुआत करनी थी लेकिन आंदोलन के लिए वैधानिक अनुमति नहीं मिलने के कारण
प्रदेश के सबसे ऊंचे 101 फीट के रावण दहन को देखने उमड़ी भीड़, 50 सालों से जारी है परंपरा

प्रदेश के सबसे ऊंचे 101 फीट के रावण दहन को देखने उमड़ी भीड़, 50 सालों से जारी है परंपरा

chhattisgarh, News, Videos
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में दशहरा महोत्सव सम्पन्न हुआ। यह कार्यक्रम हर बार डब्ल्यूआरएस कॉलोनी मैदान में आयोजित किया जाता है। राज्यपाल अनुसूइया उइके, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधायक कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय और महापौर प्रमोद दुबे समेत शहर के हजारों लोग मैदान में मौजूद थे। यहां अतिथियों के संबोधन के बाद रावण दहन का कार्यक्रम हुआ। 101 फीट ऊंची रावण मूर्ति जोरदार धमाके के साथ जली। नीचे खड़े लोग जय श्री राम के नारे लगा रहे थे। मेघनाथ और कुंभकर्ण के विशाल काय पुतले भी जलाए गए। बुराई पर अच्छाई का यह पर्व शहर में इसी अंदाज में पिछले 50 सालों से जारी है। प्रदेशभर के सभी शहरों में मंगलवार की शाम इसी तरह धूम-धाम से रावण दहन किया गया। https://youtu.be/wqxSM-0Us5A 5 हजार मीटर कपड़े और 1 टन कागज से बने थे पुतले यहां 101 फीट का रावण और 85-85 फीट के कुंभकर्ण और मेघनाद के
सीआरपीएफ जवान की चेतावनी- जमीन नहीं लौटाई तो ‘पान सिंह तोमर’ बन जाऊंगा

सीआरपीएफ जवान की चेतावनी- जमीन नहीं लौटाई तो ‘पान सिंह तोमर’ बन जाऊंगा

chhattisgarh, News, Videos
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सल मोर्चे पर तैनात एक सीआरपीएफ जवान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें जवान ने चेतावनी दी है कि अगर उसकी जमीन नहीं लौटाई गई, तो वह डाकू पान सिंह तोमर बन जाएगा। उत्तरप्रदेश के रहने वाले जवान का आरोप है कि रिश्तेदारों ने उसकी जमीन पर कब्जा कर लिया है और परिजनों काे जान से मारने की धमकी देते हैं। इस संबंध में उसने पुलिस और प्रशासन से शिकायत भी की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। चाचा राजनीति में और दबंग, इसलिए पुलिस कार्रवाई से बच रही वीडियो में नजर आने वाला व्यक्ति खुद को सीआरपीएफ की 74वीं बटालियन में तैनात आरक्षक प्रमोद कुमार बता रहा है। वीडियो के मुताबिक, प्रमोद इन दिनों सुकमा के पोलमपल्ली स्थित सीआरपीएफ कैंप में तैनात है। उत्तरप्रदेश के हाथरस निवासी प्रमोद का आरोप है कि वहां उसके तीन चाचा, परिवार को परेशान कर रहे हैं। वह मार