Shadow

business

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की ग्राम पंचायतों तथा नगरीय निकायों के वित्तीय प्रबंधन को मजबूत बनाने चार्टर्ड एकाउंटेंट्स से सहयोग की अपील

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की ग्राम पंचायतों तथा नगरीय निकायों के वित्तीय प्रबंधन को मजबूत बनाने चार्टर्ड एकाउंटेंट्स से सहयोग की अपील

business, chhattisgarh
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इंस्टीट्यूट आफ चार्टर्ड एकाउंटेंटस ऑफ इंडिया से जुड़े देशभर के सीए से ग्राम पंचायतों और नगरीय प्रशासन के काम काज में कसावट और वित्तीय प्रबंधन को मजबूत बनाने के लिए सहयोग का आव्हान किया है। उन्होंने कहा है कि छत्तीसगढ़ में बहुत सी वनोपज हैं जिनकी पैदावार देश के अन्य हिस्सों में नहीं होती है। वर्तमान में इन वनोपजों के संग्रहण के बाद इनका प्रसंस्करण छतीसगढ़ के बाहर होता है। यदि इंस्टीट्यूट आफ चार्टर्ड एकाउंटेंटस ऑफ इंडिया इनके प्रसंकरण के लिए निवेश छत्तीसगढ़ में लाने की पहल करते हैं तो इससे प्रदेश के उत्पादकों और संग्राहकों को लाभ मिलेगा और इनका निर्यात अन्य हिस्सों में करने से वहां की आवश्यकता की पूर्ति भी होगी। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय से इंस्टीट्यूट आफ चार्टर्ड एकाउंटेंटस ऑफ इंडिया द्वारा ‘रिसर्जेट छत्तीसगढ़‘ विषय पर आयो...
रायपुर : वाणिज्यिक कर मंत्री टी.एस. सिंहदेव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जीएसटी काउंसिल की बैठक में शामिल हुए

रायपुर : वाणिज्यिक कर मंत्री टी.एस. सिंहदेव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जीएसटी काउंसिल की बैठक में शामिल हुए

business, chhattisgarh
रायपुर. वाणिज्यिककर मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव आज केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में हुई जीएसटी परिषद की 40वीं बैठक में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए। वीडियो कॉन्फ्रेस में श्री सिंहदेव के साथ उनके निवास कार्यालय से वाणिज्यिक कर विभाग के प्रमुख सचिव श्री गौरव द्विवेदी और आयुक्त श्रीमती रानू साहू भी मौजूद थीं। वाणिज्यिक कर मंत्री श्री सिंहदेव ने बताया कि जीएसटी लागू होने के पहले वर्ष के दौरान भारत सरकार के साथ ही राज्य सरकारों का जो हिस्सा केंद्र सरकार की समेकित निधि में शामिल है, उसे राज्यों को उनकी हिस्सेदारी के अनुसार वितरित करने का सैद्धांतिक फैसला लिया गया। मंत्रियों का एक समूह गठित कर राज्यों को इसके वितरण की रूपरेखा तय की जाएगी। राज्य सरकारों को मिलने वाले जीएसटी का हिस्सा केंद्र सरकार की समेकित निधि में जमा होने के का...
मंत्री अमरजीत भगत ने की बालोद जिले में संचालित विकास कार्यों की समीक्षा : मनरेगा से लाखों श्रमिकों को मिल रहा काम

मंत्री अमरजीत भगत ने की बालोद जिले में संचालित विकास कार्यों की समीक्षा : मनरेगा से लाखों श्रमिकों को मिल रहा काम

business, chhattisgarh, Govt Schemes
बालोद. खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं बालोद जिले की प्रभारी मंत्री श्री अमरजीत भगत ने वीडियो कंाफ्रेंसिंग के जरिए जिले में संचालित विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। श्री भगत ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की तैयारियों की भी समीक्षा की। उन्होंने बालोद जिला मुख्यालय में कोविड-19 हॉस्पिटल की तैयारी, क्वारंटाईन सेंटर तथा प्रवासी मजदूरों व व्यक्तियों की जानकारी ली। मंत्री श्री भगत ने शासकीय उचित मूल्य की दुकानों का संचालन व नया राशन कार्ड बनाने, नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी योजना के तहत स्वीकृत कार्यों की जानकारी, गौठानों में प्लांटेशन, स्व सहायता समूह द्वारा वर्मी खाद निर्माण तथा सब्जी उत्पादन आदि की जानकारी ली। श्री भगत ने महात्मा गॉधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत स्वीकृत कार्यों की जानकारी ली। जिले में खाद-बीज भण्डारण एवं उठाव, राजीव गॉधी किसान न्याय योजना के तहत प...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज भिलाई, दुर्ग, राजनांदगांव और बिलासपुर के विभिन्न औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधि मण्डल ने मुलाकात की

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज भिलाई, दुर्ग, राजनांदगांव और बिलासपुर के विभिन्न औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधि मण्डल ने मुलाकात की

business, chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में भिलाई, दुर्ग, राजनांदगांव और बिलासपुर के विभिन्न औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधि मण्डल ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने देश के लोकप्रिय मुख्यमंत्रियों की रैंकिंग में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को दूसरा स्थान प्राप्त होने पर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दीं। हाल ही में एक ख्याति प्राप्त संस्था द्वारा मुख्यमंत्रियों के कार्याें और जनता के बीच उनकी छवि को लेकर राष्ट्रव्यापी सर्वेक्षण कराया गया था। जिसमें लोकप्रिय मुख्यमंत्रियों की सूची में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल दूसरे स्थान पर रहे। औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने इस अवसर पर कहा कि मुख्यमंत्री श्री बघेल की इस उपलब्धि से छत्तीसगढ़ गौरवान्वित हुआ है। प्रतिनिधि मण्डल ने राज्य सरकार की उद्योग और व्यापार हितैषी नीतियों और कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए गए प्रयासों हेतु रा...
रायपुर : देश भर में हुए वनोपज संग्रहण में छत्तीसगढ़ की सर्वाधिक भागीदारी, वनवासियों को होगी 2500 करोड़ की आमदनी

रायपुर : देश भर में हुए वनोपज संग्रहण में छत्तीसगढ़ की सर्वाधिक भागीदारी, वनवासियों को होगी 2500 करोड़ की आमदनी

business, chhattisgarh, special
रायपुर. वनों को सहेजने में छत्तीसगढ राज्य आज पूरे़ देश में अग्रणी है। कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान जहां पूरे देश में वन आधारित आर्थिक गतिविधियां जहां ठप रहीं, वहीं मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ ने इस दौरान अच्छी उपलब्धि हासिल की। लॉकडाउन के दौरान देशभर में हुए वनोपज संग्रहण में छत्तीसगढ़ की सर्वाधिक भागीदारी रही। वहीं, इस कार्य से वनवासियों को सलाना लगभग 2500 करोड़ की आय होने की संभावना है। ट्राईफेड से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में अब तक एक लाख क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हो चुका है, जिसके लिए संग्राहकों को लगभग 30 करोड़ 20 लाख रुपए का भुगतान किया गया है। जहाँ कोरोना वायरस महामारी ने सारी दुनिया की अर्थव्यवस्था को ध्वस्त कर दिया है, ऐसे समय में छत्तीसगढ़ में आदिवासी वनोपजों के संग्रहण से जीवकोपार्जन के साथ-साथ प्रदेश की अर्थव्यवस्था को भी गतिमान बनाये हुए हैं।...
मुख्यमंत्री से क्रेडाई के पदाधिकारियों ने की सौजन्य मुलाकात : सिंगल विंडों सिस्टम लागू करने तथा गाइडलाईन अवधि में  बढ़ोत्तरी पर जताया आभार

मुख्यमंत्री से क्रेडाई के पदाधिकारियों ने की सौजन्य मुलाकात : सिंगल विंडों सिस्टम लागू करने तथा गाइडलाईन अवधि में बढ़ोत्तरी पर जताया आभार

business, chhattisgarh
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में क्रेडाई के पदाधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की। क्रेडाई के पदाधिकारियों ने प्रदेशभर में सिंगल विंडो सिस्टम सीजी आवास लागू करने तथा राज्य सरकार द्वारा जमीनों की खरीदी-बिक्री की शासकीय गाइडलाईन की दरों में 30 प्रतिशत की छूट की अवधि को 31 मार्च 2021 तक बढ़ाए जाने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का हार्दिक आभार जताया। यहां यह उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा जमीनों के क्रय-विक्रय की दर में 30 जून 2020 तक 30 प्रतिशत की विशेष छूट दी गयी थी। जिसे कोरोना संक्रमण एवं कारोबार के प्रभावित होने कारण राज्य शासन ने छूट की अवधि में नौ माह तक के लिए बढ़ाए जाने का निर्णय लिया है। इससे रियल स्टेट को बढ़ावा मिलेगा तथा भूमि क्रेताओं को भी लाभ होगा। इस अवसर पर क्रेडाई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री आनन्द सिंघानिया, छत्तीसगढ़ क्रेडाई अध्यक...
रायपुर : लोक निर्माण मंत्री ने ली विभागीय अधिकारियों की बैठक : निर्माण कार्यो को निर्धारित अवधि में पूर्ण करने के निर्देश

रायपुर : लोक निर्माण मंत्री ने ली विभागीय अधिकारियों की बैठक : निर्माण कार्यो को निर्धारित अवधि में पूर्ण करने के निर्देश

business, chhattisgarh
रायपुर. लोक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने आज अपने रायपुर निवास कार्यालय में विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने प्रदेश में चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों-सड़कों, भवनों एवं पुलों को निर्धारित अवधि में पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माण कार्यों में गुणवत्ता सुनिश्चित करने तथा परफॉर्मेंस गारंटी के अंतर्गत आने वाले सड़कों का मरम्मत कार्य 15 जून से पहले पूर्ण कर लेने के निर्देश दिए, ताकि बरसात के मौसम में यातायात बाधित नहीं हो। बैठक में सचिव लोक निर्माण श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, प्रमुख अभियंता श्री वीके भतपहरी, मुख्य अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग श्री के के पिपरी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।...
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल : उन्नत और प्रमाणित बीज के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनें छत्तीसगढ़ के किसान

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल : उन्नत और प्रमाणित बीज के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनें छत्तीसगढ़ के किसान

business, chhattisgarh
छत्तीसगढ़ राज्य के किसानों को सहजता से उन्नत किस्म के प्रमाणित बीज उपलब्ध हो सके, बीज उत्पादन के मामले में छत्तीसगढ़ के किसान आत्मनिर्भर बनें। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की इस मंशा को पूरा करने के उद्देश्य में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे के मार्गदर्शन में कृषि विभाग द्वारा राज्य में इस साल बीज निगम एवं अन्य बीज उत्पादक सहकारी समितियों की मदद से 44 हजार हेक्टेयर में बीज उत्पादन कार्यक्रम एवं फसल प्रदर्शन लिए जाने की कार्य योजना तैयार करने साथ ही उसको मूर्तरूप देने की तैयारी में जुट गया है। राज्य के लगभग 100 गांवों, जिसमें से अधिकांश गांव सुराजी योजना के गौठान वाले गांव है, वहां कृषकों एवं कृषि उत्पादक समूहों के सहयोग से बीज उत्पादन एवं फसल प्रदर्शन कार्यक्रम वृहद पैमाने पर लिए जाएंगे। बीज उत्पादन में आत्मनिर्भरता हासिल करने के उद्देश्य खरीफ सीजन में 44 हजार हेक्टेयर में बीज उत्पादन का...
छत्तीसगढ़ : एमआरपी से अधिक कीमत पर नमक बेचने वाले 362 संस्थानों पर लगी लगाम, 65 हजार रूपये जुर्माना वसूला गया

छत्तीसगढ़ : एमआरपी से अधिक कीमत पर नमक बेचने वाले 362 संस्थानों पर लगी लगाम, 65 हजार रूपये जुर्माना वसूला गया

business, chhattisgarh, special
रायपुर। राज्य शासन के नापतौल विभाग द्वारा 13 मई को राज्य के 6 जिलों के 362 संस्थानों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। उप नियंत्रक विधिक माप विज्ञान नवा रायपुर से प्राप्त जानकारी के अनुसार नमक के पैकेट में उल्लेखित मूल्य से अधिक कीमत पर नमक बेचने वाले संस्थानों पर 65 हजार रूपये का जुर्माना किया गया है। निरीक्षण के दौरान 5 संस्थानों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज किया गया है। नापतौल विभाग द्वारा रायपुर जिले के 138 दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया और एक प्रकरण दर्ज किया गया। इसी प्रकार दुर्ग जिले में 51 दुकानों का निरीक्षण किया गया।  बिलासपुर जिले में 84 संस्थानों का निरीक्षण किया गया एवं 2 दुकानों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज किया गया। जगदलपुर जिले में 33 दुकानों का निरीक्षण किया गया और दो दुकानों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज किया गया। रायगढ़ जिले में 8 एवं अम्बिकापुर जिले में 48 दुकानों का निरीक्षण किय...
मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय इस्पॉत मंत्री को लिखा पत्र : आयरन ओर के मूल्य में अप्रत्याशित वृद्धि को तत्काल प्रभाव से वापस लेने का किया आग्रह

मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय इस्पॉत मंत्री को लिखा पत्र : आयरन ओर के मूल्य में अप्रत्याशित वृद्धि को तत्काल प्रभाव से वापस लेने का किया आग्रह

business, chhattisgarh, Govt Schemes
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने केन्द्रीय इस्पॉत मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान को पत्र लिखकर जनवरी 2020 में लौह अयस्क में की गई मूल्यवृद्धियो को तत्काल प्रभाव से वापस लेते हुए राज्य के लौह खनिज आधारित लघु उद्योगों एवं स्पंज आयरन उद्योगों को दीर्घकालिक रियायती दर पर लौह अयस्क उपलब्ध कराने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य के दंतेवाड़ा में लौह अयस्क की खदानें एनएमडीसी द्वारा संचालित है। इन खदानों में से चार खदानों का 20 वर्ष के लिए अवधि का विस्तार राज्य शासन द्वारा इस शर्त के आधार पर किया गया था कि यहां से राज्य के लौह एवं आयरन इस्पॉत उद्योग को उनकी आवश्यकता के अनुरूप लौह अयस्क की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। एनएमडीसी द्वारा खनिज आयरन ओर लम्प (डीआरसीएलओ) के मूल्य में अप्रत्याशित वृद्धि किए जाने के कारण प्रदेश के स्पंज आयरन एवं स्टील उद्योगों के संचालन ...