chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

NMDC ने रचा नया कीर्तिमान, लौह अयस्क के उत्पादन और बिक्री क्षेत्र में लगातार तीसरे वर्ष सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

रायपुर (एजेंसी) | देश के सबसे बड़े लौह अयस्क उत्पादक NMDC ने एक बार फिर से वित्तीय वर्ष 2018-2019 के दौरान अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन को बरक़रार रखते हुए लगातार तीसरे वर्ष उत्पादन और बिक्री के 30 मिलियन टन के आंकड़े को पार किया है। CMD एन बैजेंद्र कुमार की अगुवाई वाली देश की नवरत्न कंपनी NMDC ने तीसरी बार यह कीर्तिमान स्थापित किया है।

गैरतलब है कि दोनिमलै माईंस के बंद हो जाने के बाद अगस्त महीने से लौह अयस्क का निर्यात नहीं हो पाया। साथ ही बैलाडीला सेक्टर में भी इस वर्ष अधिक बारिश और कर्नाटक के माइंस में खराबी की वजह से उत्पादन काफी प्रभावित हुआ था। बावजूद इसके एनएमडीसी ने 32.44 मीट्रिक टन उत्पादन किया और वित्त वर्ष 2018-19 में 32.38 मीट्रिक टन लौह अयस्क की बिक्री की।

वित्तीय वर्ष के दौरान, NMDC की लौह अयस्क परियोजनाओं ने एक ही दिन, मासिक और वार्षिक उत्पादन आंकड़ों में भी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है:

  • अब तक के सबसे अधिक मंथली डिस्पैच- 37.95 लाख टन का मार्च 2019 का रहा, जो पिछले सर्वश्रेष्ठ के मुकाबले 37.20 लाख टन (जनवरी 2017) से कहीं ज्यादा था।
  • 1.63 लाख टन 28 मार्च 2019 का था, जिसे पीछे छोड़ते हुए 31 मार्च 2019 को एक दिन में 1.91 लाख टन का सर्वश्रेष्ठ उत्पादन एक दिन में किया गया
  • 1.40 लाख टन 04 मार्च .2018 को एक दिन में डिस्पैच का सर्वश्रेष्ठ रिकार्ड था, जिसे तोड़ते हुए 1.42 लाख टन का रिकार्ड 16 मार्च 2019 को बनाया गया।
  • 2018-19 में ड्रिंलिंग का भी नया कीर्तिमान बना, पिछले सर्वश्रेष्ठ ड्रिलिंग के रिकार्ड को तोड़ते हुए NMDC ने 16071 मीटर की ड्रिलिंग की… जबकि 2017-18 में 15065 मीटर की ड्रिलिंग का रिकार्ड था।
  • वहीं हीरों के उत्पादन में भी NMDC ने नया रिकार्ड बनाया। 2009-10 के बाद 38033 कैरेट का दूसरा सर्वश्रेष्ठ उत्पादन इस साल NMDC ने किया है।

इस मौके पर CMD एन बैजेंद्र कुमार ने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को शुभकामनाएं दी है। उनहोने कहा कि कई मुश्किल हालात के बावूजन उत्पादन व सेलिंग का जो नया रिकार्ड एनएमडीसी ने बनाया है, वो वाकई में बेहतरीन है। उन्होंने केंद्रीय इस्पात मंत्रालय व छत्तीसगढ़ सरकार को भी समर्थन के लिए धन्यवाद दिया है।

गोंडवाना एक्सप्रेस से बात करते हुए एन बैजेंद्र कुमार ने कहा कि…

“ये हमारे पूरे एनएमडीसी परिवार के लिए गर्व की बात है, हमने लगातार तीसरे साल उत्पादन व सेलिंग दोनों क्षेत्रों में सर्वश्रेष्ठता बनाये रखी है। मुश्किल हालात को हमारी टीम ने चुनौती के साथ लेते हुए लगातार तीसरे साल 30 मिलियन टन का रिकार्ड बरकरार रखा, ये कामयाबी पूरे टीम की है, में उन्हें बहुत-बहुत बधाई देता हूं।”

Leave a Reply