chhattisgarh news media & rojgar logo

Author: Admin

ओबीसी आरक्षण के लिए कल छत्तीसगढ़ महाबंद, लेकिन कुछ संगठनों ने समर्थन लिया वापस

ओबीसी आरक्षण के लिए कल छत्तीसगढ़ महाबंद, लेकिन कुछ संगठनों ने समर्थन लिया वापस

chhattisgarh, india, News, politics
रायपुर (एजेंसी) | 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण के पक्ष में कल छत्तीसगढ़ बंद बुलााया गया है. बंद का आह्वान छत्तीसगढ़ आरक्षण मंच की ओर से बुलाया गया है. ओबीसी महासभा की ओर से बुलाए गए इस बंद को एससी, एसटी वर्ग ने समर्थन किया है. लेकिन इस बीच बंद को लेकर दो प्रेस नोट जारी कर दिया गया है. एक बंद के समर्थन में, दूसरा बंद स्थगित किए जाने को लेकर। हालांकि ज्यादातर संगठनों ने यह साफ कर दिया है कि ओबीसी आरक्षण के ख़िलाफ़ कोर्ट जाने वाले सवर्णों के ख़िलाफ़ 13 नवंबर को प्रस्तावित बंद यथावत है। बंद बुलाने वालों की ओर से जारी किए प्रेस विज्ञप्ति में छत्‍तीसगढ़ ओबीसी महासभा के अध्‍यक्ष सगुनलाल वर्मा ने बताया कि छत्तीसगढ़ पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति, जनजाति व अल्पसंख्यक महासंघ के द्वारा 13 नवंबर दिन बुधवार को पिछड़ा वर्ग के 27% आरक्षण के समर्थन में छत्तीसगढ़ महाबंद के आह्वान पर छत्तीसगढ़ साहू समाज के प
ग्रामीणों ने सीएएफ के नए कैंप का किया विरोध, जवानो ने हवाई फायरिंग कर खदेड़ा – दंतेेवाड़ा

ग्रामीणों ने सीएएफ के नए कैंप का किया विरोध, जवानो ने हवाई फायरिंग कर खदेड़ा – दंतेेवाड़ा

chhattisgarh, News, politics
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | जिले के नक्सल प्रभावित गांव पोटाली में फोर्स और आम आदिवासियों के बीच तनाव के हालात हैं। दो दिन पहले यहां सीएएफ (छत्तीसगढ़ आर्म फोर्स) का कैंप खोला गया है। ग्रामीणों का आरोप है कि यह कैंप उनके खेतों पर खोला गया, इस कैंप की वजह से अब इलाके में फर्जी गिरफ्तारियां होंगी। इसी मुद्दे को लेकर मंगलवार को हजारों ग्रामीण कैंप पहुंच गए। हाथ में तीर, भाले और कुल्हाड़ी लिए ग्रामीण कैंप के अंदर घुसने की कोशिश कर रहे थे। ग्रामीणों को कलेक्टर और एसपी समझाते रहे, लेकिन वह नहीं माने। यह देख जवानों ने हवाई फायरिंग करके उन्हें खदेड़ा कलेक्टर एसपी की भी ग्रामीणों ने नहीं सुनी मंगलवार को सुबह से ही पोटाली कैंप के पास ग्रामीण जमा होने लगे थे। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कहा कि कैम्प खुलने से गांव में ही राशन, स्वास्थ्य सुविधा सहित सरकार की दूसरी योजनाओं का लाभ मिलेगा। एसपी अभिषेक पल्लव भी इ
कार्तिक पूर्णिमा: खारून नदी के तट पर पुन्नी मेले में उमड़े श्रद्धालु, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी लगाई आस्था की डुबकी

कार्तिक पूर्णिमा: खारून नदी के तट पर पुन्नी मेले में उमड़े श्रद्धालु, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी लगाई आस्था की डुबकी

Uncategorized
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में खारून नदी के तट पर पुन्नी मेले में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। आस्था और विश्वास के इस मेले में मंगलवार तड़के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी पहुंचे और खारून में डुबकी लगाकर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की। इस दौरान सीएम नदी में तैरे और उन्होंने पानी में कलाबाजी भी लगाई। इसके बाद मुख्यमंत्री नदी तट स्थित हटकेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे और  जलाभिषेक व विशेष पूजा-अर्चना कर मेले की विधिवत शुरुआत की। कार्तिक पूर्णिमा के दिन महादेव घाट पर करीब 600 वर्षों से मेले का आयोजन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने आरती में हुए शामिल, किया दीपदान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल परंपरागत आरती कार्यक्रम में शामिल हुए और दीपदान किया। उन्होंने कार्तिक पूर्णिमा की सभी को बधाई व शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर लोककलाकार दिलीप षडंगी ने राज्यगीत ‘अरपा पैरी के धार’ की प्रस्तुति दी। खार
छत्तीसगढ़: घाटे में चल रही CSPDCL, बिजली बिल हाफ से बढ़ी कंपनी की आय इसका फायदा किसानों में बांटने की तैयारी

छत्तीसगढ़: घाटे में चल रही CSPDCL, बिजली बिल हाफ से बढ़ी कंपनी की आय इसका फायदा किसानों में बांटने की तैयारी

chhattisgarh, Govt Schemes, News
रायपुर (एजेंसी) | उपभोक्ताओं को आधी कीमत पर बिजली देने के बावजूद बिजली कंपनी की कमाई में वृद्धि हुई है। इस उपलब्धि के बाद अब कंपनी नए सत्र से किसानों को कुछ और रियायत देने की तैयारी में है। यानी किसानों को घर के साथ ही खेती के लिए भी सस्ती बिजली मिलने की संभावना है। बिजली कंपनी के चेयरमैन शैलेंद्र शुक्ला ने संकेत दिए हैं कि आने वाले वित्तीय वर्ष में बिजली के ज्यादा उपभोक्ताओं को राहत दी जा सकती है। बिजली कंपनी ने नए टैरिफ के लिए कवायद शुरू कर दी है। इसके पहले चरण में वर्तमान वित्तीय वर्ष में आय-व्यय की समीक्षा कर 2020-21 में होने वाली कमाई और खर्चों का हिसाब किया जा रहा है। इसमें जो सबसे रोचक बात सामने आई है, वह यह है कि अप्रैल से अब तक बिजली कंपनी की कमाई में वृद्धि हुई है। सरकार ने अप्रैल महीने से उपभोक्ताओं के लिए बिजली की कीमत आधी कर दी है। इससे यह कयास लगाए जा रहे थे कि बिजली क
दावा: नई सरकार के गठन के बाद छत्तीसगढ़ में 5 लाख से ज्यादा लोगों को मिला रोजगार

दावा: नई सरकार के गठन के बाद छत्तीसगढ़ में 5 लाख से ज्यादा लोगों को मिला रोजगार

chhattisgarh, News, politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की सरकार का दावा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में जनवरी से अक्टूबर तक 10 माह में 5 लाख 41 हजार 259 लोगों को रोजगार मिला। इस दावे में कहा गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों में 5 लाख 10 हजार 117,  शासकीय सेवा के क्षेत्र में 20 हजार 502 और उद्योगों के क्षेत्र में 10 हजार 640 लोगों को रोजगार दिया गया। सरकार ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि ग्रामीण क्षेत्र में छत्तीसगढ़ राज्य आजीविका मिशन के तहत लगभग 2 लाख 29 हजार 374 महिलाओं को रोजगार मिला है। इस तरह दिए गए मौके सरकारी उपयोग में लाए जाने वाले कपड़ों खरीदी प्रदेश के राज्य बुनकर सहकारी संघ के माध्यम से की जा रही हैं। इससे  51 हजार बुनकरों को रोजगार मिलने की बात कही गई है। छत्तीसगढ़ में लगभग 32 प्रतिशत जनसंख्या आदिवासी लोगों की है। आदिवासियों की आय में वृद्धि के उद्देश्य से लघु वनोपजों की खरीदी 3500 महिला समूहों के
नेशनल ट्राइबल फेस्टिवल 2019: पहला ट्राइबल फेस्टिवल रायपुर में, आठ राज्यों के 2500 आदिवासी देंगे प्रस्तुति

नेशनल ट्राइबल फेस्टिवल 2019: पहला ट्राइबल फेस्टिवल रायपुर में, आठ राज्यों के 2500 आदिवासी देंगे प्रस्तुति

chhattisgarh, News, special
रायगढ़ (एजेंसी) | पहली बार राज्य में नेशनल ट्राइबल डांस फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। यहां देश के लगभग सभी राज्यों से आदिवासी नृतक दल के कलाकार प्रस्तुति देने पहुंचेंगे। रायगढ़ जिले से भी पंथी, कर्मा और महोत्सव के तय कैटेगरी विवाह, फसल कटाई, परंपरागत त्योहारों पर निर्धारित कार्यक्रमों की तैयारी कर रहे हैं। आदिवासी विभाग पहले ब्लॉक स्तर पर कलाकारों की प्रस्तुतियों के आधार पर चयन करेगी। इसके बाद जिला और फिर संभाग स्तर पर चयन प्रक्रिया होगी। छत्तीसगढ़ के साथ ही एमपी, झारखंड, यूपी, बिहार, असम, कर्नाटक, केरल के कलाकार होंगे शामिल https://www.youtube.com/watch?v=vQwBfa6N6Js इन सब में बेहतर कलाकारों को नेशनल ट्राइबल फेस्टिवल में प्रस्तुति देने का मौका मिलेगा। इसमें छत्तीसगढ़ के अलावा झारखंड, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, कर्नाटक, केरल, दक्षिण भारत के ढाई हजार से ज्यादा कलाकार हिस
Video: भवन का लोकार्पण करने पहुंचे बृजमोहन अग्रवाल को महिलाओं ने रोका, बैरंग लौटे

Video: भवन का लोकार्पण करने पहुंचे बृजमोहन अग्रवाल को महिलाओं ने रोका, बैरंग लौटे

News, politics
रायपुर (एजेंसी) | भाजपा के पूर्व मंत्री एवं विधायक बृजमोहन अग्रवाल को उनके ही विधानसभा के महिलाओं व बुजुर्गों के विरोध का सामना करना पड़ा। इसका एक वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें  महिलाओं ने बृजमोहन अग्रवाल को बैरंग लौटा दिया। महिलाओं ने कहा कि हमें आप पर विश्वास नहीं है, इसलिए आप यहां से चले जाइए। जानकारी के मुताबिक, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ब्राह्मण पारा वार्ड में लोकार्पण कार्यक्रम में पहुंचे थे। यहां एक सामाजिक भवन व गार्डन का लोकार्पण करना था, लेकिन महिलाएं भवन के सामने बैठ गईं और कहां कि आप इस भवन का उद्घाटन न करे। https://youtu.be/hsMMd2KSrKQ पूर्व मंत्री ने महिलाओं को समझाया कि यह आपके लिए ही है। आपके बच्चे यहां कंप्यूटर सीखेंगे तो आपको ही फायदा होगा. लेकिन महिलाओं ने उनके बातों पर विश्वास नहीं किया। लाख मिन्नतों के बाद भी सामुदायिक भवन और गार्डन का लोकार्पण करने नहीं द
राम जन्म भूमि अयोध्या: अदालत का फैसला सुन फफककर रोने लगे छत्तीसगढ़ के एकमात्र कारसेवक

राम जन्म भूमि अयोध्या: अदालत का फैसला सुन फफककर रोने लगे छत्तीसगढ़ के एकमात्र कारसेवक

News, politics, special
कोरबा (एजेंसी) | भगवान श्री राम का नाम लेकर कई लोगों ने अपने सियासी करियर में सितारे जोड़ लिए। मगर बहुत से अब भी गुमनामी की जिंदगी ही जी रहे हैं। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के सुदूर गांव में एक ऐसा ही शख्स इन दिनों भीख मांगकर जिंदगी बिता रहा है। इनका नाम है गेसराम चौहान। कोरबा जिले की करतला तहसील के ग्राम चचिया के मूलनिवासी हैं। वे छत्तीसगढ़ के ऐसे एक मात्र व्यक्ति हैं जिन्हें 1990 की कारसेवा के दौरान पेट में गोली लगी थी। उसके बाद 1992 की कारसेवा में भी शामिल हुए और लाठियां खाई। गेसराम उन लोगों में शामिल थे, जिन्होंने विवादित ढांचा गिराकर अयोध्या में राम मंदिर बनाने का आंदोलन किया। रो पड़े, पूछा - सच में मंदिर बनने वाला है क्या? गेसराम को जब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में बताया गया तब 65 साल का यह बुजुर्ग अवाक हो गया। हाथ में पकड़ी लाठी, भिक्षापात्र व झोला गिर पड़ा। भावावेश में वे रोने लग
भगवान राजनीति का विषय नहीं – कांग्रेस, राम मंदिर के फैसले पर टीवी डिबेट में नहीं जाएंगे कांग्रेसी

भगवान राजनीति का विषय नहीं – कांग्रेस, राम मंदिर के फैसले पर टीवी डिबेट में नहीं जाएंगे कांग्रेसी

News, politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ में कांग्रेसी राम मंदिर के फैसले पर होने वाली बहस में शामिल नहीं होंगे।  प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि राम मंदिर पर सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए फैसले पर होने वाली किसी भी लाईव टीवी डिबेट में कांग्रेस पार्टी हिस्सा नहीं लेगी। https://youtu.be/F1TDM287va8 उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी ही नहीं किसी भी राजनीतिक दल को इस लाईव डिबेट में भाग नहीं लेना चाहिये। मंदिर और भगवान राजनीति का विषय नहीं है। यह धर्म आस्था और विश्वास का विषय है। उसे राजनीति का विषय नहीं बनाना चाहिए। दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी ने इसे न्याय की जीत का फैसला बताया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि सर्वधर्म-समभाव की भाव-भूमि पर अब राष्ट्रीयता की और भारत-भक्
छत्तीसगढ़: सकरी तहसील में सरकारी कर्मचारी रिश्वत लेते गिरफ्तार, लोरमी में पटवारियों का घूस मांगने का वीडियो वायरल

छत्तीसगढ़: सकरी तहसील में सरकारी कर्मचारी रिश्वत लेते गिरफ्तार, लोरमी में पटवारियों का घूस मांगने का वीडियो वायरल

chhattisgarh, News, Videos
बिलासपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के राजस्व विभागों में किस तरह रिश्वतखोरी दीमक बनकर लोगों को चाट रही है, इसका एक बार फिर खुलासा हुआ है। एक ही दिन में रिश्वतखोरी के तीन मामले बिलासपुर से सामने आए हैं। सकरी तहसील में जहां महिलाकर्मी 10 हजार रुपए रिश्वत लेते पकड़ी गई है, वहीं लोरमी में महिला पटवारियों का घूस मांगने का वीडियो वायरल हो रहा है। इसको लेकर जांच के आदेश दे दिए गए हैं। सहायक ग्रेड-2 ने कहा- बिना पैसों के काम नहीं होता https://youtu.be/AKFFT3cc2hY दरअसल परसदा गांव निवासी ब्रह्मानंद साहू ने अपनी पैतृक संपत्ति का रिकॉर्ड दुरुस्तीकरण कराने के लिए उपतहसील कार्यालय सकरी में आवेदन दिया है। बार-बार के चक्कर से किसान परेशान हो गया। इस बीच महिला क्लर्क मंजू से संपर्क हुआ तो उसने ब्रह्मानंद से 10 हजार रुपए देने की मांग की। किसान ने यह राशि दे पाने में असमर्थता जाहिर की। इस पर आरोपी सहायक ग