Shadow

51 बाती तक के 25 डिजाइन के दीयों से जगमगाएगी राजधानी, भगवान गणेश, कलश और नारियल की आकृति के दीये पहली पसंद

दीपावली के लिए मिट्‌टी और टेराकोटा के दीयों से मार्केट सज चुका है। इस बार एक बाती से लेकर 51 बाती तक के दीये शहर में मिल रहे हैं। सामान्य दीये 30 रुपए दर्जन और टेराकोटा दीये 50 से 60 रुपए दर्जन में मिल रहे हैं। जो दीये सांचे की मदद से बनाए जाते हैं वो टेराकोटा दीये कहलाते हैं। इस बार शहर में 25 डिजाइन के दीये आए हैं। इसमें भगवान गणेश, कलश, लालटेन, नारियल और हाथी की आकृति के दीये खासतौर पर शामिल हैं। गेरुआ रंग के पारंपरिक दीयों के अलावा नियॉन और फूसिया कलर के दीयों का सेट भी मिल रहा है। गिफ्ट हैंपर के तौर पर लोग ऐसे कलरफुल दीये पसंद कर रहे हैं। दीया कारोबारी राजेंद्र प्रजापति ने बताया कि पिछले साल 35 से 40 डिजाइन के दीयों से मार्केट सजा था। कोरोना की वजह से इस साल 25 डिजाइन के दीये ही बनाए गए हैं। इनमें चौमुखी दीया जलाने के लिए चार बाती वाला चौकोर दीया, राउंड शेप का दीया, स्टार शेप का दीया भी शामिल है।

लालटेन और नारियल की आकृति का दीया
लालटेन के शेप का दीया भी लोगों को पसंद आ रहा है। इनके दोनों तरफ होल्ड दिया गया है, जिस पर रस्सी या लोहे के तार लगाकर दरवाजे या पेड़ पर टांग सकते हैं। इसकी कीमत 350 रुपए है। वहीं, तुलसी चाैरा में लगाने के लिए नारियल शेप का दीया भी अवेलेबल है। इसकी खासियत है कि खुले आसमान के नीचे जलाने पर भी हवा से दीया बुझता नहीं है।

7 से लेकर 51 बाती तक के दीयों का बना सकते हैं सेट
रंगोली के बीच सजाने के लिए लोग भगवान गणेश और कलश की आकृति के दीये पसंद कर रहे हैं। गणेश जी की दो इंच की प्रतिमा के साथ एक बाती वाला दीया बनाया गया है। इसकी कीमत 150 रुपए पेयर है। कलश दीया तीन हिस्सों में बंटा है, जिसे आप खुद जोड़ सकते हैं। इसका पहला हिस्सा मिट्‌टी का स्टैंड है। इसके ऊपर पांच या सात दीयों का सेट रख सकते हैं और दीयों के बीच में मिट्‌टी का कलश रख सकते हैं। इन्हें एक के ऊपर एक रखकर अपनी पसंद के अनुसार 21 बाती, 51 बाती या 108 बाती के दीयों का सेट बना सकते हैं। गणेश जी की आकृति के साथ चार बाती का दीया भी मिल रहा है, जिसमें बीच में गणेश जी और दोनों हाथ की तरफ दो-दो दीये हैं।